निवेशकों के कम ब्याज दरों को लेकर आशावादी होने से सोने में तेजी आई है

Finance and economics explained simply
निवेशकों के कम ब्याज दरों को लेकर आशावादी होने से सोने में तेजी आई है

कल और आज के कारोबार के दौरान भी लेख लिखे जाने तक सोने की कीमतें बढ़ीं, क्योंकि निवेशकों ने टिप्पणियों के बाद ब्याज दरों में गिरावट के बारे में आशावादी होना शुरू कर दिया।

फेडरल रिजर्व के अध्यक्ष जेरोम पॉवेल ने बताया कि केंद्रीय बैंक ब्याज दरों में कटौती कब शुरू करेगा।

सितंबर में कम ब्याज दरों की उम्मीद के कारण अमेरिकी डॉलर के मूल्य में गिरावट के साथ हाल के सत्रों में सोने में खरीदारों की ताकत देखी गई।

पॉवेल की गवाही के दूसरे दिन आज भी सोने की कीमतों में उतार-चढ़ाव की आशंका बनी हुई है, क्या वह फिर से 2% मुद्रास्फीति तक पहुंचने के अपने लक्ष्य की पुष्टि करेंगे?

या क्या यह संकेत भेजेगा कि रिज़र्व ब्याज दरें कम करना कब शुरू करेगा? आज की सुनवाई के दौरान निवेशकों की इसी पर नजर रहेगी।

Related Posts

( UAE )